Liquor contracts: यूपी में बंद होंगे शराब के ठेके, सीएम का बड़ा फैसला

 
Liquor contracts: यूपी में बंद होंगे शराब के ठेके, सीएम का बड़ा फैसला

Liquor contracts:- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने धार्मिक स्थानों, स्कूलों और राजमार्गों के निकट शराब की दुकानों को बंद करने का आदेश दिया है। अवैध शराब बनाने व बेचने पर सख्त से सख्त कार्रवाई और सघन निगरानी सुनिश्चित की जाए, उन्होंने कहा। उन्हें यह सुनिश्चित करना था कि इन जगहों पर कोई शराब की दुकान नहीं होगी। मुख्यमंत्री योगी ने पहले ही कहा था कि कांवड़ यात्रा के मार्ग पर कोई शराब की दुकान या मांस की दुकान नहीं होनी चाहिए।

राजस्व प्राप्तियों की मुख्यमंत्री योगी ने चालू वित्तीय वर्ष की समीक्षा की। वित्तमंत्री सुरेश खन्ना भी उनके साथ थे। यहां मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के कर-करेत्तर राजस्व संग्रह में लगातार वृद्धि हो रही है, जो लगातार प्रयासों से हुआ है। अब तक, इस वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में 46 हजार करोड़ से अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ है।

जीएसटी और वैट से 26 हजार करोड़ रुपये, एक्साइज में 10 हजार करोड़ रुपये, स्टाम्प और पंजीयन से 6 हजार करोड़ रुपये और परिवहन से 2400 करोड़ रुपये मिल गये। उन्होंने संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि यह धन जनता से प्राप्त हुआ है और इसका उपयोग राज्य के विकास और जनता की सुविधा पर किया जाएगा।

1.5 लाख करोड़ रुपये जीएसटी की चोरी पर रोक लगाएं

CM योगी ने कहा कि राज्य में बहुत सारी संभावनाएं हैं। राजस्व संग्रह को बढ़ाने के लिए नवीन स्रोतों की खोज करें। चालू वित्तीय वर्ष के लिए, उन्होंने 1.50 लाख करोड़ रुपये के वैट और जीएसटी संग्रह का लक्ष्य रखा। मुख्यमंत्री ने राजस्व चोरी को राष्ट्रीय नुकसान बताते हुए कहा कि जीएसटी चोरी को रोका जाएगा।

छापेमारी से पहले सटीक जानकारी प्राप्त करें और अपनी इंटेलिजेंस को और बेहतर बनाएं। उनका अनुरोध था कि सचल दल इकाइयों और विशेष अनुशासनिक इकाइयों को अधिक सक्रिय बनाया जाए। टैक्स चोरी पर रोक लगाने की सफलता पर संतोष जताते हुए कहा कि कार्यप्रणाली में अभी भी व्यापक सुधार की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने क्षेत्र में अनुभवी, सक्षम और अनुभवी अधिकारियों को नियुक्त करने के निर्देश दिए।

क्षेत्रीय अधिकारियों को स्पष्ट लक्ष्य दिए जाएंगे, मुख्यमंत्री स्वयं विश्लेषण करेंगे

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि क्षेत्रीय अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश देकर राजस्व संग्रह को बढ़ाना चाहिए। इसकी मासिक और साप्ताहिक समीक्षा भी करें। मुख्यमंत्री प्रत्येक तीन महीने में खुद समीक्षा करेंगे। मुख्यमंत्री ने खनन वाहनों में ओवरलोडिंग को हर समय रोकने का भी आदेश दिया। उनका कहना था कि ये दुर्घटनाओं का बड़ा कारण हैं। इसके लिए सख्त कार्रवाई करें।

Tags