Scotland Of India: भारत की इस जगह को बोला जाता है भारत का स्कॉटलैंड, ख़ूबसूरती ऐसी की विदेशों से स्पेशल आते है लोग

 
Scotland Of India: भारत की इस जगह को बोला जाता है भारत का स्कॉटलैंड, ख़ूबसूरती ऐसी की विदेशों से स्पेशल आते है लोग

Scotland of India: बजट या अन्य कारणों से कई लोग दूसरे देशों की यात्रा नहीं कर पाते हैं, हालांकि विदेशी दृश्यों को देखने का शौक रखते हैं। विदेश जाना बहुत से भारतीयों का सपना है। लेकिन हर कोई विदेश जाने का सपना नहीं देखता। भारत में ही विदेशी स्थानों की सैर कर सकते हैं। भारत में कई जगहें विदेशी वातावरण देती हैं। क्या आपने स्कॉटलैंड के चित्रों और वीडियो को सोशल मीडिया पर देखा है? क्या आप जानते हैं कि स्कॉटलैंड का प्राकृतिक सौंदर्य आपको आकर्षित करता है? क्या आप जानते हैं कि स्कॉटलैंड भारत में भी है?

कुर्ग को भारत का स्कॉटलैंड कहा जाता है क्यों?

कुर्ग बहुत से पर्यटकों को अपनी पहाड़ी दृश्यों, हरी-भरी घाटियों, उच्च घास के मैदानों और आदिवासी संस्कृति से आकर्षित करता है। यह प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है और कर्नाटक के वायनाड जिले में है। इसलिए इस पहाड़ी शहर को भारत का स्कॉटलैंड कहा जाता है।

कुर्ग में क्या देखना चाहिए

इस हिल स्टेशन पर घूमने के लिए बहुत कुछ है। यहां आप अब्बे फॉल्स, ईरपु फॉल्स, नालबंद पैलेस, राजा की गुंबद और मदिकेरी किले देख सकते हैं। मंडलपट्टी व्यू पॉइंट, नामद्रोलिंग मठ और ओंकारेश्वर मंदिर भी देखने के लिए जा सकते हैं।

कुर्ग में कैसे पहुंचे?

दिल्ली से कुर्ग तक सड़क, विमान या रेल से जा सकते हैं। कुर्ग के लिए कोझिकोडे या मंगलौर में हवाई अड्डा है। आप टैक्सी, बस या रेलगाड़ी लेकर आगे जा सकते हैं। वहीं कोझिकोड रेलवे स्टेशन ट्रेन से सबसे करीब है। मैसूर जंक्शन भी जा सकते हैं, लगभग 117 किलोमीटर दूर कुर्ग है।

कुर्ग में घूमने की लागत

बजट के अनुरूप ट्रेन या फ्लाइट टिकट खरीदें। कुर्ग में रहने के लिए एक अच्छे होटल में कमरा बुक कर सकते हैं, जो लगभग डेढ़-दो हजार रुपये है। रेंट पर घूमने के लिए स्कूटी या शेयर जीप ले सकते हैं। 1000 रुपये तक की लागत हो सकती है। खाने-पीने का खर्च 1000 से 1500 रुपये होगा। ट्रिप में लगभग 5000 रुपये खर्च हो सकते हैं, जो तीन दिनों और दो रातों की होगी।

Tags