How To Invest In Mutual Funds In Hindi(म्यूचुअल फंड Best Guide 2023)

 
How To Invest In Mutual Funds In Hindi(म्यूचुअल फंड Best Guide 2023)

How To Invest In Mutual Funds In Hindi अगर आप शेयर बाजार के संबंध में ज्यादा जानकारी नहीं रखते हैं लेकिन इसमें निवेश करके पैसा कमाना चाहते हैं तो आपके लिए Mutual Funds में निवेश करना एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

How To Invest In Mutual Funds In Hindi(म्यूचुअल फंड Best Guide 2023)

Mutual Fund मे योजना का मैनेजर आपके पैसों को काफी सोच विचार और सभी चीजें समझने के बाद कुछ इस तरीके से निवेश करता है या लगाता है ताकि आपको नुकसान होने की स्थिति में कम से कम नुकसान हो। और अगर आपको मुनाफा हो रहा है तो ज्यादा से ज्यादा रिटर्न मिले आज इस लेख के माध्यम से हम आपको How To Invest In Mutual Funds In Hindi के बारे में बताएंगे साथ ही म्यूच्यूअल फंड क्या होता है के बारे में भी आपको जानकारी देंगे।

Mutual Funds क्या होता है

Mutual Fund को हिंदी में पारस्परिक निधि कहते हैं थोड़ा और सामान्य भाषा में समझाने का प्रयास करें तो Mutual Fund को साझा रकम भी कहते हैं। दोस्तो Mutual Funds में कई सारे लोगों का पैसा एक साथ मिलाकर शेयर बाजार या फिर किसी अन्य निवेश योजना में लगाया जाता है। इस तरह पारस्परिक निधि में आपके पैसों को सामूहिक रूप से निवेश किया जाता है उस निवेश से जो भी फायदा होता है उसे हर एक व्यक्ति के निवेश के हिस्से के अनुसार बांटा जाता है।

Mutual Fund मे निवेश करने वाले लोगों का पैसा कहां-कहां और किस प्रकार से निवेश करना है यह एक विशेषज्ञ टीम के द्वारा तय किया जाता है। टीम के द्वारा इस काम को और अधिक आसन बनाने के लिए मैनेजर की नियुक्ति की जाती है जिसमें Fund Manager कहते हैं।

Related Post

How To Invest In Cryptocurrency

उस टीम में शेयर बाजार की अच्छी तरह से जानकारी रखने वाले Professionals रखे जाते हैं कंपनी और उसके शेयर के पिछले प्रदर्शन व रिकॉर्ड और भविष्य के प्रदर्शन की संभावनाओं को देखते हुए टीम के द्वारा लोगों का पैसा निवेश किया जाता है। टीम लोगों का पैसा कुछ इस तरह से निवेश करती है ताकि लोगों को नुकसान की स्थिति में कम से कम नुकसान हो और फायदा होने की स्थिति में ज्यादा से ज्यादा मुनाफा मिले।

इस प्रकार Mutual Fund आपको बड़ी-बड़ी कीमत वाले निवेशो में भी कम पैसे निवेश करके उस निवेश के तहत लाभ प्राप्त करने की सहूलियत प्रदान करता है।

नीचे हम आपको एक उदाहरण की मदद से Mutual Fund को और अधिक आसान भाषा में समझा रहे हैं:-

माना आपके पास 20 बिस्किट का एक पैकेट है जिसकी कीमत ₹1000 है बिस्किट के पैकेट के साथ यह साथ जुड़ी है कि अगर कोई इसे खरीदना चाहेगा तो उसे इस पैकेट को पूरा ही खरीदना होगा। अब यहां मान लेते हैं कि कोई एक व्यक्ति उस बिस्किट के पूरे पैकेट को खरीदने की स्थिति में नहीं है या फिर वह व्यक्ति एक साथ पूरा बिस्किट का पैकेट खरीदना नहीं चाहता है।

ऐसे में 5 लोग आपस में मिलकर सामूहिक रूप से उस पैकेट को खरीदने की योजना बनाते हैं और एक साथ ₹200- ₹200 जमा करके उस पैकेट को खरीद लेते हैं। अब हम देखते हैं कि हर एक इंसान के हिस्से में 4 - 4 बिस्किट आते हैं इसी तरह म्यूच्यूअल फंड को आप बिस्किट के एक पूरे पैकेट के रूप में मान सकते हैं और हर एक बिस्किट को एक यूनिट मान सकते हैं।

तो इस प्रकार हर एक व्यक्ति के हिस्से में म्यूच्यूअल फंड की चार यूनिट आती है इस प्रकार उन 4 यूनिट में उस व्यक्ति का पैसा लगा हुआ है। अब व्यक्ति को मुनाफा या नुकसान जो भी होगा वह उस 4 यूनिट के हिसाब से ही मिलेगा। हम उम्मीद करते हैं कि आप बहुत अच्छी तरीके से Mutual Fund के बारे में समझ गए होंगे।

How To Invest In Mutual Funds In Hindi

हम समझते हैं आप बहुत अच्छी तरीके से म्यूच्यूअल फंड के संबंध में जानकारियों के बारे में समझ गए होंगे अगर आप म्यूचुअल फंड में निवेश का मन बना चुके हैं तो निश्चित रूप से किसी खास कैटेगरी में बेहतर म्युचुअल फंड तलाश रहे होंगे। यहां हम कुछ बिंदुओं के बारे में संक्षेप में जानकारी दे रहे हैं जिनके आधार पर आपको Mutual Funds में निवेश को लेकर निर्णय करने में आसानी होगी।

1. Fund Manager

किसी भी Mutual Fund की योजना के लिए Fund Manager एक ड्राइवर की तरह होता है पूरी निवेश को मैनेज करने वाली टीम को मैनेजर ही Vision प्रदान करता है। Fund Manager ही आपके निवेश पर अंतिम निर्णय लेता है तो म्यूचुअल फंड में निवेश के लिए सबसे पहले आपको सही और विश्वसनीय फंड मैनेजर का चुनाव करना चाहिए।

2. Performance

किसी भी Mutual Funds की योजना के प्रदर्शन को जानने का एक बेहतर तरीका है कि आप उस योजना के पिछले सालों की प्रदर्शन को चेक करें। ध्यान रखें कि किसी कुछ खास वर्षों के प्रदर्शन के आधार पर ही Mutual Funds में निवेश ना करें इसके लिए सबसे अच्छा होगा कि आप लंबी अवधि के लिए उसके औसत प्रदर्शन को देखें। यहां पर आपको योजना के साल दर साल अलग-अलग प्रदर्शन को भी देखना है अगर कोई Mutual Funds दोनों तरीकों से ठीक है तब आप उस में निवेश का निर्णय ले सकते हैं।

3. Risk

आप जिस भी Mutual Funds में निवेश करना चाहते हैं उसके ऊपर जोखिम के बारे में भी विचार करें आपका Mutual Funds बाजार के उतार-चढ़ाव के चलते बहुत तेज Reaction वाला नहीं होना चाहिए। किसी भी योजना के Risk Category को जानने के लिए आप उस Time Period पर नजर डाल सकते हैं जब मार्केट में तेज बदलाव हुआ है। पता करें कि बाजार के साथ-साथ उस Mutual Funds Scheme के NAV मे किस प्रकार बदला हुआ है। अगर योजना में बाजार के उतार-चढ़ाव से अधिक उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है तब आपका इस से दूर रहना ही बेहतर है।

4. Professional Fund House

किसी भी पारस्परिक निधि में निवेश करने का यह सबसे अंतिम चरण है आपको चाहिए कि आप किसी Professional Fund House में ही अपना पैसा निवेश करें। यह बहुत ही समझदारी वाला कदम है एक अच्छे और बढ़िया Professional Fund House के पास एक बेहतर रिसर्च टीम भी होती है। यह टीम कुछ Standard के आधार पर अच्छी योजनाओं और शेयरों का चयन करती है इसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आपके निवेश का प्रदर्शन किसी एक इंसान के कंपनी में होने या ना होने पर निर्भर नहीं रहता है।

इस तरह के Fund House का Fund Manager अगर किसी कारणवश आपको बीच में छोड़कर चला जाता है तो टीम उस स्थिति को संभालने के लिए तैयार रहती है। दोस्तों इस तरह आप ऊपर बताए गए बिंदुओं को ध्यान में रखते हुए किसी भी Mutual Funds में निवेश को लेकर एक बेहतर निर्णय ले सकते हैं।

Conclusion

आज इस ब्लॉग पोस्ट के माध्यम से हमने आपको How To Invest In Mutual Funds In Hindi के संबंध में विस्तार से जानकारी दी है। अगर आप शेयर बाजार में रुचि रखते हैं और म्यूचुअल फंड में निवेश करके मुनाफा कमाना चाहते हैं तो आपको हमारी यह पोस्ट ध्यान पूर्वक पढ़नी चाहिए। क्योंकि यहां पर हमने आपको विस्तार से समझाने का प्रयास किया है कि म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए आपको किन किन चीजों का ध्यान रखना चाहिए। अंत में हम आपसे यही उम्मीद रखते हैं कि आपको How To Invest In Mutual Funds In Hindi का यह लेख पसंद आया होगा और आप इसे अधिक से अधिक शेयर करेंगे।

Tags