Gehlot: पीएमओ का गहलोत को जवाब- हमने न्योता भेजा था, आपके कार्यालय ने मना कर दिया

 
Gehlot: पीएमओ का गहलोत को जवाब- हमने न्योता भेजा था, आपके कार्यालय ने मना कर दिया

Gehlot:- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राजस्थान दौरे से पहले केंद्र और राज्य सरकारों में मतभेद पैदा हो गए हैं। गुरुवार सुबह, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि उनका भाषण प्रधानमंत्री मोदी के कार्यक्रम से हटा दिया गया है, जिस पर प्रधानमंत्री कार्यालय ने जवाब दिया है। PMO ने स्पष्ट किया कि अशोक गहलोत को निमंत्रण भेजा गया था, लेकिन उनके कार्यालय ने ही उनके आने में असमर्थता जताई थी।

अशोक गहलोत जी, प्रोटोकोल के तहत आपको कार्यक्रम में बुलाया गया है और आपको भाषण देने का समय भी दिया गया है, प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्विटर पर जवाब दिया है। लेकिन आपके कार्यालय ने ही बताया कि आप इसमें भाग नहीं ले पाएंगे। आपको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पिछली यात्राओं के दौरान बार-बार बुलाया गया था और आप हर बार कार्यक्रम में शामिल हुए हैं।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक ट्वीट में कहा कि आप अभी भी आज के कार्यक्रम में स्वागत करते हैं, जिसमें आपका नाम विकास से जुड़े कामों की प्लेट पर लिखा गया है। आपकी उपस्थिति पूरी तरह से महत्वपूर्ण होगी जबतक आपको चोट की वजह से आने में शारीरिक असमर्थता नहीं होगी।

आपको बता दें कि गुरुवार सुबह अशोक गहलोत ने एक लंबे ट्वीट में दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आज राजस्थान में होने वाले कार्यक्रम से पहले पीएमओ ने उनके 3 मिनट के भाषण को हटा दिया है। इसलिए वह प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में भाषण देकर उनका स्वागत नहीं कर पाएगा।

राजस्थान से जुड़ी कई मांगों को अशोक गहलोत ने ट्विटर पर अपने एक ट्वीट में उठाया है, उन्होंने कहा कि मैं भाषण में इन बातों का जिक्र करने वाला था लेकिन अब यहां कर रहा हूँ।

गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 9 करोड़ किसानों को किसान सम्मान निधि की किस्त देने के लिए सीकर जाएंगे। PM मोदी भी यहां भाजपा की रैली में भाग लेंगे, राज्य में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस और भाजपा की लड़ाई तेज हो गई है, और पीएम मोदी ने चुनावी बिगुल फूंकते हुए दिखाई दिया है।

Tags