Home Trending News UP News Tech Haryana News Weather Gold-Silver Price More

होशियार लोग भी नही जानते इन्वर्टर बैटरी में पानी डालने का सही तरीका, बैटरी की पॉवर बैकअप में होगी बढ़ोतरी

By Rahul Junaid

Published on:

इस वर्ष गर्मियों में तापमान में अभूतपूर्व वृद्धि के कारण पूरे भारत में बिजली की मांग ने नए रिकॉर्ड कायम किए हैं। उच्च तापमान और उमस के चलते एयर कंडीशनर पंखे और अन्य ठंडक प्रदान करने वाले उपकरणों का अधिक से अधिक इस्तेमाल हो रहा है।

नतीजतन बिजली की अपर्याप्त आपूर्ति के कारण देश के कई हिस्सों में लंबे समय तक बिजली कटौती हो रही है। इस स्थिति में लोगों का झुकाव इन्वर्टर की ओर बढ़ गया है जो कि बिजली न होने पर भी आवश्यक उपकरणों को चलाने में सहायक होता है।

इन्वर्टर बैटरी की सही देखभाल और रख-रखाव करके न केवल उसकी लाइफ बढ़ाई जा सकती है बल्कि इससे आपके इन्वर्टर की प्रदर्शन क्षमता भी बेहतर हो सकती है। इस तरह गर्मी के मौसम में भी आप अपने घर में अविचलित बिजली आपूर्ति सुनिश्चित कर सकते हैं।

इन्वर्टर बैटरी का सही रख-रखाव

बैटरी का उचित रख-रखाव इसकी क्षमता और जीवनकाल को बढ़ाने के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। इन्वर्टर बैटरी में पानी डालना एक महत्वपूर्ण और अक्सर अनदेखी की जाने वाली प्रक्रिया है। अधिकांश लोग या तो इसे नजरअंदाज करते हैं या गलत तरीके से इसे अंजाम देते हैं जिसके चलते बैटरी की उम्र कम हो जाती है और वह जल्दी खराब हो जाती है।

बैटरी में पानी डालने की सही विधि

इन्वर्टर की बैटरी में पानी डालने का सही तरीका यह है कि हमेशा डिस्टिल्ड या डीमिनरलाइज्ड पानी का उपयोग करें क्योंकि यह बैटरी के एसिड स्तर को संतुलित रखता है। बैटरी पर दिया गया इंडिकेटर या मार्कर यह बताता है कि बैटरी में कितना पानी भरना है। इसे अतिरिक्त भरना या कम भरना दोनों ही स्थितियों में नुकसानदेह हो सकता है। बैटरी के निर्माता द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करना चाहिए।

सुरक्षा और स्वास्थ्य के उपाय

जब भी बैटरी में पानी डालें छोटे मुंह वाली बोतल का उपयोग करें ताकि पानी गिरने की संभावना कम हो और इलेक्ट्रिकल शॉर्ट या करंट लगने की दुर्घटना से बचा जा सके। पानी डालते समय हमेशा सुरक्षित तरीके से कार्य करें और नियमित अंतराल पर इस क्रिया को दोहराएं।

Related Post