Home Trending News UP News Tech Haryana News Weather Gold-Silver Price More

गैस सिलेंडर का इस्तेमाल करते वक्त मत करना ये बड़ी गलती, वरना जिंदगीभर करेंगे पछतावा

By Rahul Junaid

Published on:

भारतीय घरों में एलपीजी गैस सिलेंडर का उपयोग बहुत आम है। यह हर रसोई का एक अनिवार्य हिस्सा बन चुका है जहाँ लोग आसानी से और तेजी से अपना भोजन तैयार करते हैं। आधुनिक समय में तो गैस सिलेंडर की बुकिंग और डिलीवरी भी ऑनलाइन हो गई है।

जिससे इसका उपयोग और भी सहज हो गया है। एलपीजी गैस सिलेंडर का उपयोग करते समय उपर्युक्त सावधानियों को अपनाकर हम न केवल अपने घर को सुरक्षित बना सकते हैं बल्कि अपने परिवार को भी बड़े हादसों से बचा सकते हैं।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का योगदान

केंद्र सरकार ने गरीब वर्ग के लोगों को धुएँ रहित रसोई का अनुभव प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना शुरू की है। इस योजना के अंतर्गत गरीब परिवारों को मुफ्त में एलपीजी कनेक्शन प्रदान किया जाता है जिससे उन्हें स्वच्छ और सुरक्षित खाना पकाने का साधन मिलता है।

गैस सिलेंडर से जुड़े खतरे और सावधानियां

भले ही एलपीजी गैस सिलेंडर एक सुविधाजनक साधन है परंतु इसके इस्तेमाल के साथ कुछ जोखिम भी जुड़े हुए हैं। गैस रिसाव एक गंभीर समस्या है जो अक्सर खराब पाइपलाइन या सिलेंडर की खराबी के कारण होती है। इसे नज़रअंदाज करने पर भारी हादसे हो सकते हैं। इसलिए जरूरी है कि गैस के रिसाव का संदेह होने पर तुरंत सम्बंधित एजेंसी को सूचित किया जाए और आवश्यक कदम उठाए जाएँ।

गैस सिलेंडर की सही उपयोगिता और देखभाल

कई बार लोग गैस स्टोव को तो बंद कर देते हैं लेकिन सिलेंडर के रेगुलेटर को बंद करना भूल जाते हैं जिससे गैस का रिसाव हो सकता है। इसके अलावा सिलेंडर की एक्सपायरी डेट की जाँच पड़ताल करना भी बेहद जरूरी है क्योंकि एक्सपायरी डेट के बाद सिलेंडर का उपयोग खतरनाक साबित हो सकता है।

बच्चों से गैस सिलेंडर की सुरक्षा

छोटे बच्चों की पहुँच से गैस सिलेंडर को दूर रखना चाहिए। बच्चे अनजाने में गैस का रेगुलेटर खोल सकते हैं जिससे गंभीर दुर्घटनाएँ हो सकती हैं। साथ ही गैस स्टोव का इस्तेमाल करते समय बच्चों की उपस्थिति विशेष रूप से नियंत्रित होनी चाहिए।

Related Post